18 Jul 2018
Moral Vision Prakashan Pvt. Ltd.

छत्तीसगढ़: आईटी ऑफिसर ने कोयला व्यापारी पर कसा शिकंजा

छत्तीसगढ़: आईटी ऑफिसर ने कोयला व्यापारी पर कसा शिकंजा

February 16, 2018 01:14 PM
छत्तीसगढ़: आईटी ऑफिसर ने कोयला व्यापारी पर कसा शिकंजा

छत्तीसगढ़: गुरुवार की अलसुबह अंबिकापुर के प्रमुख कोल व्यवसायी व उनके पार्टनर के घर पर आयकर विभाग ने छापामार कार्रवाई की। इस टीम में दिल्ली, रायपुर व बिलासपुर के लगभग 50 से अधिक अधिकारी कर्मचारी शामिल है। बताया जा रहा है कि जांच में बड़े पैमाने पर गड़बड़ी मिली है। यह जांच अगले 2 से 3 दिनों तक जारी रहेगी। कोल व्यवसायी संजय मित्तल के अग्रसेन चौक के समीप स्थित निवास और उनके पार्टनर कुंडला सिटी निवासी विनोद अग्रवाल के घर आयकर विभाग ने दबिश दी। आईटी की टीम 8 से 10 वाहनों में शहर में पहुंची और सीधे कोल व्यवसायी के घर पर दबिश दी।
घर का दरवाजा खुलते ही अधिकारी अंदर घुस गए और सभी सदस्यों के मोबाइल फोन जब्त कर लिया। किसी को भी घर के बाहर जाने की इजाजत नहीं दी गई। टीम में शामिल अधिकारियों ने संजय मित्तल व विनोद अग्रवाल के मकान में व्यवसाय से संबंधित सभी दस्तावेजों की जांच करने के साथ ही संपत्ति व आय के स्रोत का आंकलन किया जा रहा है। टीम ने फिलहाल जांच से सम्बंधित किसी भी प्रकार की जानकारी देने से इनकार किया है। दोनों व्यावसायियों के सभी ठिकानों पर पुलिस तैनात की गई है। मित्तल परिवार हिंद यूनिट्रेड लिमिटेड के नाम से व्यावसाय करते हैं। 
आफिस का तोड़ा ताला
इनकम टैक्स की विजलेंस टीम ने कोयला व्यवसायी संजय मित्तल व उसके पार्टनर विनोद अग्रवाल के मकान में छापा मारने के साथ ही उनके रगुनाथपुर स्थित डिपो में भी जांच की। टीम ने पुराना बस स्टैंड माया लॉज के सामने स्थित कार्यालय में भी छापा मारा। कार्यालय की चाबी नहीं मिलने पर टीम ने ताला काट कर जांच शुरू की व कोयला व्यवसाय से जुड़े सभी दस्तावेज कब्जे में ले लिए।
रेस्टोरेंट में लिया बयान
आमतौर पर इनकम टैक्स डिपार्टमेंट की जांच बेहद गोपनीय होती है परंतु आज आयकर की जांच के दौरान एक अजीब नजारा देखने को मिला। आईटी के अधिकारियों ने संजय मित्तल का बयान घर अथवा उनके आफिस के बंद कमरे में लेने के बजाय ऑफिस के सामने स्थित माया रेस्टोरेंट में लिया।
बंगला देख भौंचक रह गए अधिकारी
कोल व्यवसायी संजय मित्तल का अग्रसेन वार्ड देवेश्वर कॉलोनी अस्तबल के पीछे एक निर्माणाधीन मकान का भी आईटी के अधिकारियों ने जायजा लिया। विगत 5 वर्षो से बन रहे आलीशान बंगले को देख अधिकारी भी भौंचक रह गए। संजय मित्तल से जुड़े लोगों का कहना है कि इस बंगले की वर्तमान कीमत लगभग 30 करोड़ है, जो निर्माणाधीन है। भविष्य में इसकी लागत बढ़ भी सकती है।
 


Moral Vision Prakashan Pvt. Ltd.
About us | Contact us | Our Team | Privacy Policy | Terms & Conditions | Downloads
loading...