29 Mar 2020
Moral Vision Prakashan Pvt. Ltd.

पाकिस्तान में कोरोना से मच रहा हाहाकार

पाकिस्तान में कोरोना से मच रहा हाहाकार

March 26, 2020 02:31 PM
पाकिस्तान में कोरोना से मच रहा हाहाकार

इस्लामाबाद।

एक ओर कोरोना वायरस को लेकर पूरी दुनिया में हाहाकार मचा हुआ है वहीं दूसरी ओर पाकिस्तान के प्रधानमंत्री इमरान खान का कहना है कि बाकी देशों के मुकाबले अभी पाकिस्तान में कोरोना वायरस के मरीजों की संख्या काफी कम है। यहां पर ऐसे मरीज कम पाए जा रहे हैं।
पाकिस्तान के एक निजी टीवी चैनल के कार्यक्रम में पीएम इमरान ने कहा कि उनके देश की अर्थव्यवस्था अमेरिका जैसे देश के मुकाबले काफी कम है जब इन दिनों अमेरिका में इतने अधिक कोरोना संक्रमित मरीज पाए जा रहे हैं और वहां पर अब तक इस बीमारी से निपटने के लिए कोई टीका नहीं है फिर पाकिस्तान के पास तो उनके मुकाबले संसाधन ही बहुत कम है। यदि उस हिसाब से तुलना करें तो हमारे यहां अभी मरीजों की संख्या काफी कम है, इसके लिए अल्लाह का शुक्र है। उनके इस बयान को पाकिस्तान की एक जर्नलिस्ट ने चुटकी लेते हुए ट्वीट भी किया है जिसमें यही लिखा गया है कि अल्लाह का शुक्र है कि अभी पाकिस्तान में कोरोना संक्रमित मरीजों की संख्या कम है। मालूम हो कि पाकिस्तान में रोजाना ही कोरोना संक्रमित मरीजों की संख्या में बढ़ोतरी हो रही है।  मरने वालों का आंकड़ा भी बढ़ ही रहा है। पाकिस्तान की वेबसाइट डॉन के अनुसार फिलहाल वहां 997 कोरोना संक्रमित मरीज है। साइट पर इलाके के हिसाब से भी संख्या लिखी गई है। यहां सिंध में 410 मरीज, इस्लामाबाद में 16, खैबर पख्तूनखा में 78, पंजाब में 296, ब्लूचिस्तान में 115 और जीबी में 82 मरीज पाए गए हैं। इन सभी का इलाज चल रहा है, पाकिस्तान में कोरोना से मरने वालों की संख्या 7 तक पहुंच चुकी है। यहां कई मरीज गंभीर है। इस कार्यक्रम में मंच से इमरान खान पाकिस्तान की तुलना अमेरिका से करते दिखते हैं, वो कहते हैं कि अमेरिका महाशक्ति है, उसके पास मेडिकल और अन्य चीजों के आधुनिक संसाधन है, उनका टैक्स कलेक्शन पाकिस्तान के टैक्स कलेक्शन से कई गुना अधिक है उसके बाद भी वो कोरोना वायरस के संक्रमण को रोकने के लिए अभी तक कोई टीका नहीं खोज पाए हैं, उस पर रिसर्च ही कर रहे हैं। और तो और कई देश पाकिस्तान से इस मामले में मदद मांग रहे हैं। ये बताते हुए इमरान खुश दिखते हैं। ऐसे में यदि 25 करोड़ की पाकिस्तान की आबादी में अभी तक 997 मरीज पाए गए हैं तो बहुत कुछ कंट्रोल में है। इस कार्यक्रम में उनसे पूछा गया था कि यदि कोरोना का गंभीर मरीज आता है तो सरकार उसका इलाज कहां करवाएगी, कैसे इस पर कंट्रोल किया जा सकता है। बाकी देशों की तरह यहां लाकडाउन क्यों नहीं किया जा रहा है? लाकडाउन कब तक किया जाएगा?इस तरह के सवालों पर ही वो भड़क गए और जवाब देने लगे। उन्होंने कहा कि इन दिनों जो हालात है उसमें किसी का दूध ब्रेड रोक देने से इस पर रोक नहीं लगाई जा सकती है। इसके बाद उन्होंने कहा कि यदि आप दूसरे देशों में कोरोना के आंकड़ें देखेंगे तो आपको अपने आप ही चीजों का पता चल जाएगा। फिलहाल जो भी है पाकिस्तान में अभी हालात इतने अधिक खराब नहीं हुए हैं। अल्लाह का शुक्र बना हुआ है। अमेरिका में जितने मरीज बढ़ रहे हैं उसके मुकाबले हमारे यहां संख्या बहुत ही कम है। 
 


Moral Vision Prakashan Pvt. Ltd.
About us | Contact us | Our Team | Privacy Policy | Terms & Conditions | Downloads
loading...