13 Nov 2019
Moral Vision Prakashan Pvt. Ltd.

स्कूलों में बंटे बैग व जूते 50 फीसदी फटे

स्कूलों में बंटे बैग व जूते 50 फीसदी फटे

November 08, 2019 05:05 PM
स्कूलों में बंटे बैग व जूते 50 फीसदी फटे

बांदा,08 नवम्बर 2019 मंडलीय सहायक शिक्षा निदेशक (बेसिक) जीएस राजपूत के औचक निरीक्षण में परिषदीय विद्यालयों में बच्चों को बांटे गए बैग और जूतों के घटियापन की पोल खुल गई। निरीक्षण वाले सभी स्कूलों में 40 से 50 फीसदी बच्चों के बैग और जूते फटे पाए गए। उधर, बीआरसी में भी व्यवस्थाएं चैपट मिलीं। सहायक शिक्षा निदेशक ने बांदा जनपद के जसपुरा ब्लाक के तीन विद्यालयों और बीआरसी तथा कस्तूरबा गांधी आवासीय विद्यालय का निरीक्षण किया। मंडलीय सहायक शिक्षा निदेशक द्वारा जिलाधिकारी को दी गई निरीक्षण रिपोर्ट में बताया है कि जसपुरा ब्लाक के खम्हरिया गांव में उच्च प्राथमिक विद्यालय व प्राथमिक विद्यालय और जसपुरा में प्राथमिक विद्यालय भाग-एक के बच्चों के 40 से 50 फीसदी बैग व मोजे फटे पाए गए। कई जगह जूतों का साइज बड़ा होने से बच्चे इस्तेमाल नहीं कर पा रहे। बच्चों की पंजीकृत की अपेक्षा उपस्थिति कम मिली। सहायक निदेशक ने जसपुरा ब्लाक संसाधन केंद्र के निरीक्षण में कंप्यूटर आपरेटर ज्ञान सिंह को 22 अक्तूबर से अनुपस्थित पाया। सहायक लेखाकार शिवधनी भी निरीक्षण के समय अनुपस्थित थे। एबीएसए का कक्ष पूरी तरह अस्त-व्यस्त पाया गया। गंदगी भी मिली। यही हाल प्रशिक्षण कक्ष का था। शिकायत पंजिका नहीं बनाई गई। वर्ष 2017 के बाद सेवा पंजिकाओं में कोई प्रविष्टि दर्ज नहीं है। व्यक्तिगत पत्रावलियां भी नहीं बनाई गईं। सहायक निदेशक ने एबीएसए और संबंधित लिपिक को एक हफ्ते के अंदर सारी कमियां दूर करके बीएसए के माध्यम से आख्या प्रस्तुत करने को कहा। वरना विभागीय कार्रवाई की चेतावनी दी। अनुपस्थित कर्मचारियों के विरुद्ध कठोर कार्रवाई के निर्देश बीएसए को दिए। सहायक निदेशक ने कहा कि राज्य परियोजना कार्यालय द्वारा बीआरसी के लिए प्रतिवर्ष पर्याप्त बजट दिया जाता है, लेकिन यहां सफाई और साज-सज्जा संतोषजनक नहीं है। यह निर्देशों का उल्लंघन है। बीएसए ने बड़ोखर खुर्द, तिंदवारी और नरैनी के एबीएसए कार्यालयों में रखरखाव संतोषजनक बताया।
 


Moral Vision Prakashan Pvt. Ltd.
About us | Contact us | Our Team | Privacy Policy | Terms & Conditions | Downloads
loading...